New Shayari 2020, Socha Hu Kuch Lafj

New Shayari 2020

New Shayari 2020

सोचता हूँ कुछ लफ्ज़ कर दूँ तेरे नाम,
मैं भी आज लिख दूँ क्यों न तुझे एक पैगाम,
क्या कहूँ क्या लिखूँ बड़ी उलझन में हूँ मैं यहाँ,
लफ्ज़ मिलते ही नहीं जो कर दें मेरा दर्दे-दिल बयाँ ।

हमने उन्हें पा कर कभी खोना नहीं चाहा,
जुदाई में उनकी कभी रोना नहीं चाहा,
उन्होंने हमें संभाल कर नहीं रखा,
फिर भी हमने किसी और का होना नहीं चाहा।

New Shayari 2020

दोनों आखों मे अश्क दिया करते हैं,
हम अपनी नींद तेरे नाम किया करते है,
जब भी पलक झपके तुम्हारी समझ लेना,
हम तुम्हे याद किया करते हैं ।

चुपचाप गुज़ार देगें
तेरे बिना भी ये ज़िन्दगी,
लोगो को सिखा देगें,
मोहब्बत ऐसे भी होती है।

 New Shayari In Hindi

जाने कौन तेरा हबीब होगा,
तेरे हाथो में जिसका नसीब होगा,
कोई तुम्हे चाहे ये बड़ी बात नहीं,
जिसको तुम चाहो वो खुसनसीब होगा…

जब खयाल आया तो खयाल
भी उनका आया
जब आखें बंद की ख्वाब
भी उनका आया,
सोचा याद कर लू किसी और को
मगर होठ खुले तो नाम भी उनका आया!!

ये दोस्ती का रिश्ता भी कितना अजीब होता है
दूरिया होते हुए भी दिल कितने करीब होता है…..!!!
नही देखते हम रंग,जाति और हैसियत को क्
यों की ये सभी रिस्तो से ज़्यादा अजीज होता है !!!!!

Treading

More Posts
Translate »