Hindi New Shayari, Kahi Andera To

Hindi New Shayari

Hindi New Shayari

कही अन्धेरा तो कही शाम होगी
मेरी हर खुशी तेरे नाम होगी
कुछ मांग कर तो देख होंठों
पे हशी और हथेली पर जान होगी !!

भूल जाए तुमको कोई इरादा नहीं हैं,
तेरे सिवा सिकी और से वादा नहीं नहीं हैं,
निकाल देते दिल से शायद तुमको,
मगर इस नादान दिल में दरवाजा नहीं हैं।

महफ़िल में हँसना हमारा मिजाज बन गया,
तन्हाई में रोना एक राज बन गया,
दिल के दर्द को चेहरे से जाहिर न होने दिया,
बस यही जिंदगी जीने का अंदाज बन गया

Hindi New Shayari 2020

हम आज भी दिल का आशिया बनाने से डरते है
बागो में फूल खिलाने से डरते है
हमारी पसन्द से टूट जाएगा किसी का दिल
इसलिए हम गर्ल फ्रेड बनाने से डरते है !!

भूल जाए तुमको कोई इरादा नहीं हैं,
तेरे सिवा सिकी और से वादा नहीं नहीं हैं,
निकाल देते दिल से शायद तुमको,
मगर इस नादान दिल में दरवाजा नहीं हैं।

हम जिनके दीवाने है वो गैरों के गुण गाते थे,
हमने कहा आपके बिन जी ना सकेंगे,
तो हंस के कहने लगे,
के जब हम ना थे तब भी तो जीते थे।

New Shayari In Hindi

पल पल तरसते उस पल के लिए,
पल आया भी तो कुछ पल के लिए,
सोचा था की जिन्दगी को एक हंसीन पल बना लेंगे,
पर वो पल रुका भी तो बस इक पल के लिए।

बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,
आप खुश रहें, मेरा क्या है,
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।

Treading

More Posts
Translate »